Processor in Hindi [प्रोसेसर क्या है और कैसे काम करता है]

Processor-in-Hindi-Core-and-Types-Intel-and-AMD

Processor in Hindi [प्रोसेसर क्या है और कैसे काम करता है?]: नमस्कार दोस्तों! HindiCapitals वेबसाइट में आपका बहुत-बहुत स्वागत है। आज के इस लेख में हम बात करने वाले हैं Processor के बारे में। आज का दौर Technology का दौर है और इस Technology के दौर का मुख्य घटक Computer है।

आधुनिक समय में Computer का उपयोग लगभग हर जगह किया जाता है आप लोग भी Computer या Mobile का प्रयोग तो करते ही होंगे लेकिन क्या आपने कभी यह सोचा है कि Computer या Mobile चलते कैसे हैं? Computer और Mobile को चलाने का जरूरी घटक क्या होता है? कैसे Computer हमारे द्वारा दिए गए निर्देशों को Process करता है और हमें Output देता है।

यदि इन सारे सवालों का जवाब आपको नहीं पता है तो घबराने की कोई जरूरत नहीं है। बने रहिए इस लेख में और इस लेख को शुरू से अंत तक पढ़िए आपको बहुत कुछ जानने और सीखने को मिलेगा।

Computer या Mobile को चलाने में और हमारे द्वारा दिए गए निर्देशों को Process करने में सबसे अहम भूमिका Processor की होती है। Processor एक तरह से Computer का दिमाग होता है जो Computer की सारी गतिविधियों को समझता है और उस पर नजर रखता है। जब यूजर द्वारा Computer को कोई निर्देश दिया जाता है तो उसे Process करने में Processor अपनी अहम भूमिका निभाता है जिससे यूजर को सही रिजल्ट मिल सके।

जब भी हम कोई Mobile या Computer खरीदते हैं तो हम उनकी खासियत और Features को देखते हुए खरीदते हैं। इसमें एक Processor भी है जो इसके Features को Identify करता है। यह Mobile और Computer दोनों में होता है। आज के इस पोस्ट में हम आपको Processor और उससे जुड़ी संपूर्ण जानकारी बताएंगे अगर आप Processor की संपूर्ण जानकारी पाना चाहते हैं तो इस पोस्ट को शुरू से अंत तक जरूर पढ़िएगा।

What is Processor in Hindi [प्रोसेसर क्या है]

Processor कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण अंग होता है जो Computer की सारी गतिविधियों को समझता है और यूजर द्वारा दिए गए निर्देशों को Process करता है। Processor एक समय में Trillions of Calculation को Process कर सकता है। Processor को Computer का मस्तिष्क भी कहा जाता है क्योंकि यूजर द्वारा दिए गए इनपुट डाटा की Processing इसी Processors में होती है।

Processor एक प्रकार की Microchip होती है जो Motherboard में लगी हुई होती है। यह Computer में लगे हुए सारे Components को नियंत्रित करता है। जब यूजर द्वारा इनपुट डिवाइस की सहायता से किसी काम को करने के लिए Computer में कमांड को Input किया जाता है तो उस कमांड की व्याख्या करना और उसे Process करना फिर Output के रूप में आउटपुट डिवाइस के माध्यम से रिजल्ट को दिखाना यह सभी काम Processor के द्वारा होता है। Processor का मुख्य कार्य Input लेना और उचित Output प्रदान करना है। Processor को वैकल्पिक रूप से CPU या Micro Processor के नाम से भी जाना जाता है।

Processor-in-Hindi

इसे भी पढ़े: मदर बोर्ड क्या है? मदरबोर्ड की पूरी जानकारी।

History of Processor in Hindi (प्रोसेसर का इतिहास)

Computer Processor के इतिहास में दुनिया का सबसे पहला Processor सन् 1971 में Intel कंपनी के द्वारा Design किया गया था जिसे 4-bit Microprocessor 4004 कहा जाता था। इसमें 2300 Transistors लगाए गए थे और यह अनुमानन 60 हजार Operations को एक सेकंड में Perform करता था।

इस Processor को Federico Faggin, Ted Hoff और Stan Mazo ये तीन Engineers ने मिलकर बनाया था। इस Processor Chip को कुछ इस तरह से बनाया गया था कि एक ही Chip के द्वारा सारे Processing Functions को कंट्रोल किया जा सके।

धीरे-धीरे समय के साथ-साथ Computer के आकार, क्षमता और बनावट को काफी Integrate किया गया है। इसके साथ-साथ Processor भी Integrate किए गए हैं अब के समय में तो अधिक से अधिक कार्यों को एक ही Processor के द्वारा किया जा सकता है।

Advance Technology के द्वारा अधिक कॉन्प्लेक्स, अधिक क्षमता वाले और अधिक पावरफुल वाले Processor Chip को बनाना संभव हो पाया है। आधुनिक समय में Processor का बादशाह Intel को कहा जाता है क्योंकि यह लोगों की जरूरतों के हिसाब से हर प्रकार के Processors बनाता है। Processor को CPU भी कहा जाता है।

इसे भी पढ़े:

CPU क्या करता है [Work of CPU in Hindi]

CPU किसी भी Computer का सबसे अहम Hardware पार्ट होता है। इसका पूरा नाम Central Processing Unit है। Computer में CPU तीन मुख्य कार्य करता है। पहला वह यूजर से Data या Information को लेता है। दूसरा वह उस Data या Information पर कुछ Operation Perform करता है यानी उसे Process करता है। तीसरा आउटपुट डिवाइस की सहायता से Output को यूजर को दिखाता है।

CPU के मुख्यत: 3 भाग होते हैं जिनके काम भी अलग-अलग होते हैं जो कुछ इस प्रकार से हैं।

1. ALU (Arithmetic and Logic Unit)

ALU का पूरा नाम Arithmetic and Logic Unit है। ALU एक Chip के समान होता है जो CPU में लगा हुआ रहता है और इसके द्वारा सभी अंकगणितीय गणनाओं को हल किया जाता है जैसे- जोड़, घटाना, गुणा, भाग इत्यादि।

2. CU (Control Unit)

इसका पूरा नाम Control Unit है। इसका प्रयोग Computer की सभी गतिविधियों को नियंत्रित करने में किया जाता है। यह Microprocessor का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है जो Control Signals बनाता है।

3. MU (Memory Unit)

इसका पूरा नाम Memory Unit है। इसका प्रयोग अस्थाई रूप से डाटा और निर्देशों को संग्रहीत करने में किया जाता है।

इसे भी पढ़े:

Processor की ClockSpeed क्या है [ClockSpeed of Processor]

Processor की Clock Speed को Processor Speed और Clock Rate भी कहा जाता है। जितनी Speed से Processor प्रत्येक Instructions को Execute करता है वही उसकी Clock Speed होती है। CPU के अंदर प्रत्येक Data या Information को Execute करने के लिए एक Cycle की आवश्यकता पड़ती है जितनी तेज CPU की Clock Rate होगी CPU की Processing भी उतनी ही तेज होगी यानी कि उतनी ही तेज CPU के अंदर Instructions का Execution होगा।

Processor की Clock Speed को MHz और GHz में मापा जाता है।

(1MHz = 1 Millions Cycle Per Second)

(1GHz = 1 Thousand Million Cycle Per Second)

किसी भी Computer की Speed उसकी Processor की Speed पर निर्भर करती है। जितना ज्यादा तेज आपके CPU की Speed होगी उतनी तेज आपका Computer वर्क करेगा। Computer की स्पीड RAM, Motherboard और Processor पर भी निर्भर करती है।

हमारा Computer कितनी Calculations को एक सेकंड में करता है इस बात का पता उसकी Clock Speed से लगाया जाता है। आज के समय में अलग-अलग Brands के अनेकों Processor Available हैं लेकिन उनमें से कौन ज्यादा अच्छा और ज्यादा तेज है यह उसकी Clock Speed से पता चलता है। जिस Processor की Clock Speed जितना तेज होगी वह उतना ही ज्यादा Calculations को प्रति सेकंड करेगा।

Processor में Core क्या होता है [What is Core in Processor]

जहां Processor की बात होती है वहां Core (कोर) का नाम भी सामने आता है। Processor में Core उसकी क्षमता को दर्शाते हैं। Processor को उसकी क्षमता के अनुसार Differentiate किया गया है।

एक Simple Processor में Single Core होता है जो ज्यादा भारी काम करने के लिए असमर्थ होता है और Hang करता है इसलिए अब के Computer और Mobile में 2 Core, 4 Core, 6 Core के Computer Processor लगाए जाते हैं जिससे की Computer या Mobile Hang ना हो और भारी काम को भी आसानी से कर सकें।

यदि Computer में 2 Core का Processor लगा है तो वह Single Core की अपेक्षा 2 गुना और यदि 4 Core का Processor लगा है तो वह 4 गुना Speed से काम करेगा वह भी बड़े आसानी से और बिना Hang किए हुए। इसलिए Laptop या Mobile लेते समय उसके Processor Core को जरूर जांच लें जिससे आपका Laptop या Mobile Hang ना हो।

इसे भी पढ़े: कंप्यूटर का पूरा नाम क्या है?

Core के प्रकार [Types of Core]

Technology के इस बढ़ते कदम में कार्यक्षमता के अनुसार Processor Core को कई विभिन्न भागों में विभाजित किया गया है जिस Processor में जितना Core होगा वह उतना ही ज्यादा Multitasking करने में सक्षम होगा। Core के नाम कुछ इस प्रकार से हैं।

  1. Dual Core (2 Core)
  2. Quad Core (4 Core)
  3. Hexa Core (6 Core)
  4. Octa Core (8 Core)
  5. Deca Core (10 Core)

Processor बनाने वाली कंपनियां

बहुत सारी कंपनियां हैं जो Processor बनाती हैं लेकिन उनमें से कुछ लोकप्रिय कंपनियां हैं जिनकी List नीचे दी गई है।

  1. Intel
  2. AMD
  3. Qualcomm
  4. NVIDIA
  5. IBM
  6. Samsung
  7. Motorola
  8. Hewlett Packard (HP)

ऊपर दी गई Processor कंपनियों की List में Intel और AMD की डिमांड सबसे ज्यादा है क्योंकि यह कंपनियां अच्छा Processor तो बनाती ही हैं लेकिन इसके साथ-साथ ये Processors को निरंतर बेहतर बनाने की कोशिश में लगी रहती हैं।

इसे भी पढ़े: URL क्या है? यह कैसे काम करता है पूरी जानकारी।

Intel और AMD में अंतर [Difference Between Intel and AMD]

जब आप Computer या Laptop लेने के लिए जाते हैं तो उसमें Processor की बात जरूर करते हैं जिसमें Intel और AMD आप के मुख्य विकल्प होते हैं। AMD के Processors Intel की तुलना में सस्ते होते हैं। यदि आपके पास बजट कम है तो आपको AMD का Processor कम कीमत में और अच्छे Performance के साथ मिल जाएगा लेकिन Intel एक पसंदीदा Processor है और इसका प्रदर्शन भी AMD की तुलना में बेहतर रहता है।

Processor कैसे काम करता है [Work of Processor in Hindi]

Processor की डिजाइन बहुत Complex होती है। हर कंपनी के Processor अलग-अलग मॉडल के होते हैं। Processor बनाने वाली कंपनी Intel और AMD की डिमांड मार्केट में हमेशा ज्यादा होती है। Intel के Processor AMD के Processor से थोड़ा महंगे होते हैं।

ये दोनों कंपनियां Processor को हमेशा बेहतर बनाने की कोशिश में लगी रहती हैं। किसी भी Instructions को Processor करने के लिए किसी भी Processor को चार Processes से गुजरना पड़ता है जो कुछ इस प्रकार हैं।

Fetch →Decode →Execute →Write

1. Fetch

किसी भी Processor की यह सबसे पहेली Process होती है। Fetch का मतलब होता है किसी चीज को लाना। इस Process में Processor Instructions को Fetch करता है जो की मेमोरी में Wait कर रहे होते हैं। Processor में एक Program Counter होता है जो यह बताता है कि Last Instructions कहां खत्म हुई और Next Instructions कहां शुरू हुई।

2. Decode

किसी भी Instructions को Fetch करने के बाद उसे Decode किया जाता है। यह Processor की दूसरी Step होती है। Processor का एक Part होता है जिसे Opcode कहा जाता है। Opcode Processor को यह बताता है कि Fetch की हुई Instructions को क्या करना है। जब Processor एक बार यह पहचान लेता है कि उसे क्या करना है फिर सारी चीजें वह Automatic करता है।

3. Execute

Instruction को Decode करने के बाद उसे Execute करना पड़ता है। यह Processor की तीसरी Step होती है। इसमें Processor को पता होता है कि उसे क्या करना है। Program Counter के अंदर जो Instructions Decode की जाती है उसका सही आउटपुट पाने के लिए उसे Execute करना होता है। जब किसी Instructions का Execution हो जाता है तो वह आउटपुट देने के लिए तैयार हो जाता है।

4. Write

जो इसका नाम है वही इसका काम है। यह Processor की Last Step होती हैं। इसमें Execute किए गए Instructions के आउटपुट को मेमोरी में Store किया जाता है। मेमोरी में Store किए गए आउटपुट को अंत में यूजर को दिखा दिया जाता है। यह सारी Processes को Instruction Cycle कहते हैं।

Must Read: जाने कंप्यूटर की पीढियां क्या थी।

Conclusion

Technology के बढ़ते कदम को देखते हुए हम यह अनुमान लगा सकते हैं कि निकट के भविष्य में हमें और भी बेहतर और पावरफुल Processor देखने को मिलेंगे जो कम Space और कम Power में भी Operate किए जा सकेंगे।

Processor बनाने वाली सभी कंपनियां इसी में लगी है कि कैसे Processor को पहले से बेहतर बनाया जाए जो ज्यादा से ज्यादा Efficient हो। अब के Processor की तुलना पहले के Processor से करें तो हम यह पाएंगे कि Processor की Generations में काफी परिवर्तन आया है और हमें उम्मीद है कि Future में हमें और भी परिवर्तन देखने को मिलेगा।

आज के इस लेख में हमने आपको Processor के बारे मे संपूर्ण जानकारी दी है (Processor in Hindi)। उम्मीद करता हूं कि यह लेख आपको अच्छा लगा होगा यदि इस लेख में आपका कोई सवाल हो तो आप Comment के माध्यम से मुझसे पूछ सकते हैं मुझे आपकी सहायता करने में खुशी होगी।

बने रहिये हमारे साथ इन्तजार कीजिये हमारी अगली पोस्ट का Latest Update के लिए हमें Social Media पर जरूर Follow करें।

मैं आप लोगों को हमेशा की तरह यही कहूंगा कि यदि आपको हमारा पोस्ट अच्छा लगा हो और आपके लिए Helpfull रहा हो तो इसे अपने Social Media Profile पर शेयर कर और लोगों तक पहुचाने में हमारी मदद करें।

यदि आप Computer से सम्बंधित कुछ और जानना चाहते हैं, तो Comment Box में पूछने में जरा सा भी संकोच न करें हमें आपकी सहायता करके ख़ुशी होगी।

Processor in Hindi की सम्पूर्ण जानकारी को आप wikipedia से भी पढ़ सकते हो।

People Also Search:

Processor in Hindi, What is Processor in Hindi, What is Core in Processor, Types of Core, Difference Between Intel and AMD, Work of CPU in Hindi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here